Saturday, 4 April 2015

‘अन्तरंगता की भीतरी परतें’ की समीक्षा / Review of 'Antrangta Ki Bheetari Parten'

वाणी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित लेखिका 
डॉ. जसविन्दर कौर बिन्द्रा 
द्वारा संकलित व अनुवादित पंजाबी कहानियों के संग्रह 
‘अन्तरंगता की भीतरी परतें’ 
परतें की समीक्षा व अंश 
नवां ज़माना 
पंजाबी समाचार पत्र में प्रकाशित की गयी है।


साभार : नवां ज़माना, समाचार पत्र ( 15 मार्च 2015)
साभार : बलबीर परवाना (समीक्षक)

साभार : नवां ज़माना, समाचार पत्र (29 मार्च 2015)