Monday, 20 January 2014

'ये आम रास्ता नहीं’ की समीक्षा

'जनसंदेश टाइम्स' में रजनी गुप्त के नये उपन्यास 'ये आम रास्ता नहीं' की समीक्षा.





वाणी प्रकाशन से प्रकाशित प्रसिद्ध लेखिका सुश्री रजनी गुप्त के उपन्यास 'ये आम रास्ता नहीं' की समीक्षा 'कथाक्रम' (त्रैमासिक पत्रिका) के नये अंक (अप्रैल-जून 2014) में प्रकाशित।




वाणी प्रकाशन से प्रकाशित प्रसिद्ध लेखिका सुश्री रजनी गुप्त के उपन्यास 'ये आम रास्ता नहीं' की समीक्षा 'राष्ट्रीय सहारा' समाचार पत्र में में प्रकाशित।