Monday, 2 April 2012

वॉल्ट डिज़्नी : ऐनीमेशन का बादशाह


Book- Walt Disney : Animation Ka Badshah
Writer : Vijay Sharma
Publisher : Vani Prakashan
Price :
` 595
ISBN : 978-93-5072-007-3
Total Pages :  284
Size (Inches) :  4X7
Category  :  Cinema/Biography

पुस्तक के सन्दर्भ में ...
ऐनीमेशन की तकनीक और शब्दावली के प्रणेता, ऐनीमेशन के बादशाह वॉल्ट डिज़्नी का बचपन बहुत संघर्षमय था/ बाद में भी उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ा / मगर वह कभी अपने लक्ष्य से डिगे नहीं / जो ठान लेते वह करके रहते / उन्होंने अपनी मेहनत और लगन से एक साम्राज्य खड़ा किया / दर्ज़नों ऐनीमेशन कार्टून फ़िल्में,डिज़्नी  स्टूडियो, डिज़्नीलैंड, डिज़्नी आर्ट स्कूल, एक्सपेरिमेंटल प्रोटोटाइप सिटी ऑफ़ टुमारो, वेड एंटरप्राइजेज आदि उनकी उद्यमिता का प्रतिफल है/
वॉल्ट डिज़्नी ने गुणवत्ता ( क्वालिटी ) और संख्या (क्वांटिटी) दोनों उत्पन्न की / वह एक विजनरी-दैवी लीडर थे / लोगों की प्रतिभा को पहचानने, उन्हें अपने यहाँ लाकर प्रशिक्षित करने और उनसे सर्वोत्कृष्ट कार्य करवा पाने के गुण उन्हें  एक विशिष्ट लीडर बनाते हैं / अपने यहाँ काम करने वालों की सुख-सुविधा का ध्यान रखना, उन्हें काम के बेहतर अवसर एवं वातावरण प्रदान करना उनके  स्वभाव का हिस्सा था / टीम वर्क की कला में दक्ष वॉल्ट ताजिंदगी युवकोचित उत्साह से अपने कार्य में जुटे रहे /  लीडर होने के साथ- साथ वह एक पारिवारिक व्यक्ति, एक समर्पित पति और पिता भी थे / उन्होंने अपने मित्रों-परिवारजनों को काम में अपने साथ रखा / अमेरिका का एक प्रमुख उद्योगपति होते हुए  भी उनका निजी जीवन तड़क-भड़क से कोसों दूर अत्यंत सीधा-सादा था /  बच्चों की कल्पना में तार्किकता का कोई स्थान नहीं होता है / डिज़्नी के कार्टून भी तार्किकता से परे होते हैं / मनचाहा रूप धारण करने की लालसा हमारे अंतस  में गहराई से पैठी हुई है / डिज़्नी का काम हमारी आदिम भावनाओं को स्पर्श करता है / उनके काम 'बिगनर्स मांइड' का प्रतिफल है / वह हमें बंधनमुक्त करता है / इसलिए वॉल्ट डिज़्नी का काम बच्चों और वयस्कों, दोनों को सामान रूप से लुभाता है /

लेखिका के सन्दर्भ में ......
 श्रीमती  विजय शर्मा का जन्म 2  नवम्बर 1952, सहजनवां, जिला गोरखपुर (उत्तरप्रदेश ) में हुआ /  इन्होंने एम.ए.(हिन्दी ),एम.एड. तक शिक्षा प्राप्त की / फिलहाल प्रवासी हिन्दी कथा साहित्य पर शोध जारी है /
प्रकाशित कृतियाँ :- अपनी धरती, अपना आकाश : नोबेल के मंच से, लौह शिकारी / प्रसारण : आकाशवाणी से पुस्तक समीक्षा, कहानी तथा वार्ता प्रसारित 'सहयोग' बहुभाषीय साहित्यिक संस्था की पूर्व अध्यक्ष / सम्मान : इस्पात मेल विजया साहित्य सम्मान, 2002 सम्प्रति : रीडर,लायोला कॉलेज ऑफ एडूकेशन,जमशेदपुर, इग्नू असिस्टेंट सेंटर इंचार्ज, काउन्सलर इग्नू बी.एड.,एम.एड.,